डॉक्टर गंभीर मरीजों का इलाज करने से डरने लगे

पटना :- अस्थि रोग विशेषज्ञ पद्श्री डॉ. रविन्द्र नारायण सिंह ने इलाज के दौरान मौत होने के बाद चिकित्सकों के खिलाफ लगातार हो रहे हमले पर आज कहा की मौजूदा परिवेश में गंभीर बीमारी से ग्रसित मरीजों का इलाज करने से डॉक्टर डरने लगे हैं| जो समाज के लिए खतरनाक साबित हो रहा है|

डॉक्टर सिंह ने कहा, वर्तमान समय में चिकित्सकों और कर्मचारियों के साथ मारपीट की घटनाएं तेजी से बढ़ी है|इससे डॉक्टर सब गंभीर बीमारी का इलाज करने से डरते लगे है ”उन्होंने सवालिया लहजे में कहा की परिजन की मृत्यु होने पर दुःख और नाराजगी जायज है लेकिन दुःख में किसी से मारपीट या उस पर जानलेवा हमला करने से क्या जान वापस आ सकती है|

मरीज को अन्य जगह रेफर करने से कभी कभी शी समय पर इलाज नहीं मिलता और मरीज को नुकसान होता है |डॉक्टरसिंह ने कहा की चिकित्सा पेशे में खतरा हमेशा बना रहता है | कोई भी चिकित्सक मरीज को जानबूझकर नहीं मरता बल्कि कई बार उनके पास कोई विकल्प नही होता |कई बार सोचने का मौका भी नही मिलता ,तुरंत निर्णय लेना पड़ता है|जबकि ऐसे समय शरीर की प्रतिक्रिया हर मरीज में अलग-अलग होती है |इसे लापरवाही मनना गलत है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *