बहुत गुणकारी है टमाटर

यूं तो हर सब्जी और फल में अनेको गुण होते हैं लेकिन टमाटर की बात ही कुछ और है |अक्सर हमारे बड़े बुज़ुर्ग टमाटर खाने की सलाह घर में हर किसी को देते हैं |उनका यही कहना रहता है कि ,टमाटर खाने से गाल लाल रहते हैं |दरअसल इसके पीछे उनका इरादा हमें टमाटर के अधिकाधिक इस्तेमाल के लिए प्रेरित करना होता है |टमाटर देखने में भी काफी आकर्षक होता है और इसका इस्तमाल हर घर में अलग – अलग ढंग से खूब होता है |कभी सब्जी में डालकर , कभी सलाद के रूप में ,कभी खट्टी चटनी- कभी मीठी चटनी तो कभी अचार के रूप में |खाने में इसके शामिल होने से ही खाने का आकर्षण और उसका स्वाद दोनों बढ़ जाता है |कभी -कभार को छोड़ दें तो ज्यादातर इसकी कीमत भी हमारी पंहुच में ही होती है |हम सब इसे खाते है लेकिन हमारे बीच बहुत कम लोग होंगे जो इसके अनगिनत गुणों से वाकिफ हों |आज उसकी भी चर्चा हो जाये |पहली बात तो यह कि इसके नियमित सेवन से ह्रदय सम्बन्धी बीमारियां हमें परेशां नहीं करती |इस बात पर वैज्ञानिकों ने भी अपनी मुहर लगा दी है |उनका कहना है कि ,टमाटर हमारी रक्त वाहिनियों में खून का थक्का जमने नहीं देता जिसकी वजह से हार्ट अटैक और हार्ट स्ट्रोक का खतरा काफी कम हो जाता है |टमाटर पर किये गए शोध और परीक्षणों से पता चला है कि ,टमाटर बहुत ही पौष्टिक व् गुणकारी है |इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम ,आयरन ,फास्फोरस और ढेर सारे ऐसे विटामिन पाए जाते हैं जो हमारे शरीर की रोग निरोधक क्षमता को काफी बढ़ा देते हैं |अगर शरीर में खून की कमी है तो इसका नियमित सेवन काफी लाभकारी है |अगर आप कम वजन से परेशान हैं तो अपने भोजन में पके टमाटर को शामिल करें |टमाटर से मुह के छाले और कब्ज़ की बीमारी दूर होती है |पेट के कीड़ों को भी टमाटर मारता है |गर्मी के मौसम में अधिक प्यास लगने पर टमाटर के रस में दो लौंग का चूर्ण मिलाकर पीने से काफी लाभ होता है |इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन ए भी होता है जो हमारी आँखों की रौशनी के लिए फायदेमंद है |टमाटर का रस सुबह – शाम पीने से गर्मियों में निकलने वाले फोड़े – फुंसी व त्वचा सम्बन्धी तकलीफों में हमें काफी लाभ होता है |कुल मिलाकर हम कह सकते हैं कि टमाटर के नियमित सेवन से हमारे भोजन का स्वाद बढ़ जाता है और हम ढेर सारे रोगों से लड़ने और उन पर विजय पाने में सक्षम हो जाते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *