कम खाइए दर्द निवारक गोलियां

आज की दुनिया भाग दौड़ और तनाव से भरी हुई है |हर व्यक्ति को अनेक किस्म की उलझने घेरे रहती हैं और काम का तनाव भी चरम पर होता है |ऐसे में फिटनेस बनाये रखना एक भारी समस्या है |किस्म -किस्म की बीमारियां आज जीवन शैली की देन बन गई हैं |अब इन सब से बचने के लिए ज्यादातर लोग कभी डाक्टर की सलाह से और कभी अपनी समझ से या फिर विज्ञापन देखकर दावा लेने को मजबूर हैं |इसे आप नित्य की जरूरत या फिर आम आदमी की मजबूरी भी कह सकते हैं |समझदार लोग तो डाक्टर की सलाह पर ही कोई दवा लेते हैं लेकिन कुछ लोग बिना सोचे – समझे गोलियां लेते रहते हैं |कभी सर दर्द तो कभी बदन दर्द की |कभी मांस पेशियों के दर्द को कम करने के लिए तो कभी हड्डी का दर्द कम करने को |जरा ठहरिये , और सुनिए , ये गोलियां आप के लिए जानलेवा भी साबित हो सकती हैं यदि एक निर्धारित अवधि से ज्यादा इनका सेवन किया गया तो |कनाडा में हुए नए शोध से पता चला है कि ,आइब्रूफेन और नेप्रोक्सेन जैसी जैसी दवाओं का ज्यादा सेवन दिल के दौरे के खतरे को कई गुना बाधा देता है |करीब साढ़े चार लाख लोगों पर अध्यन से पता चला कि जो लोग एक सप्ताह या एक महीने से ज्यादा इन दर्द निवारक गोलियों को ले रहे थे उनमे से ६१ हज़ार से ज्यादा लोगों को दिल का दौरा पड़ चुका है |इसलिए आप भी अभी से सतर्क हो जाइये और डाक्टर की सलाह पर ही कोई दर्द निवारक ले और वो भी उनकी बताई अवधि तक ही |क्यूंकि ,जान है तो जहान है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *