बंगाल में हिन्दुओ के त्यौहार पर रोक लगा दी गयी, देशभर के सारे सेक्युलर चैंपियन मौन है : रोहित सरदाना

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममाता बनर्जी ने कल खुद ऐलान किया
क्यूंकि 1 अक्टूबर 2017 को मुहर्रम है इसलिए हिन्दू मूर्ति विसर्जन 6 बजे के बाद नहीं कर सकते

ममाता बनर्जी ने ये फैसला इसलिए लिया ताकि मुसलमानो को मुहर्रम मनाने में दिक्कत न हो

अब इसी मुद्दे पर देशभर में ममाता बनर्जी का विरोध हो रहा है
एक टीवी कार्यक्रम के दौरान पत्रकार रोहित सरदाना ने तो उन लोगों पर भी निशाना साधा जो देश में सेकुलरिज्म का ढ़ोकल बजाये चलते है

रोहित सरदाना ने कहा की
ममाता बनर्जी ने मुहर्रम के लिए विसर्जन पर रोक लगा दी, इस मसले पर सेकुलरिज्म के सारे चैंपियन मौन बैठे हुए है

मान लीजिये अगर इसका उल्टा हो जाता
अगर विसर्जन के लिए कहीं पर मुहर्रम पर रोक लगा दी जाती, तो ये सेकुलरिज्म के चैंपियन
सड़क से लेकर संसद तक हंगामा मचा रहे होते

रोहित सरदाना ने कहा की जब हिन्दुओ के धार्मिक स्वतंत्रता के हनन की बात होती है
तो सेकुलरिज्म के चैंपियन लोगों के मुँह में दही जम जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *