तेज प्रताप का सेवक संघ मोहन जी भागवत का सामना करने की हिम्मत नहीं जुटा पाया

NEW DELHI, INDIA - OCTOBER 1: RSS Chief Mohan Rao Bhagwat at the 90th birthday celebration of VHP Chief Ashok Singhal on October 1, 2015 in New Delhi, India. (Photo by Mohd Zakir/Hindustan Times via Getty Images)

आज मीडिया में मोहन जी भागवत के विरोध की चर्चा होती रही . तेज प्रताप के डी एस एस के कुछ कार्यकर्ताओं ने मोहन जी भागवत के बिहार दौरे का विरोध किया . जब ६-७ की संख्या में कुछ कार्यकर्ताओं ने संघ मुख्यालय विजय निकेतन के करीब जा कर नारेबाजी शुरू की तो कुछ स्वयंसेवकों ने उनके पास जा कर मोहन जी भागवत के पास चल कर अपनी बात रखने के लिए कहा . इस प्रस्ताव को सुनकर सारे लोग बगले झाकने लगे . उन्होंने कहा की- नहीं हम केवल अपना विरोध दर्ज कराने आये हैं . स्वयंसेवकों ने कहा तो चलिए उनके पास अपना विरोध दर्ज करा दीजिये …लेकिन एक भी लोग उनके पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाए .

बहुत से लोगों को ये भी पता नहीं था कि वे  मोहन जी का विरोध क्यों कर रहें हैं . कुछ समय के बाद पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने का कोरम पूरा की .गिरफ्तार होने के बाद वे कहते नज़र आये-  चलो जान बची ….तेजप्रताप कहाँ कहाँ फंसा देते हैं …हम समझे कि खाली नारा वारा लगाना है .

ज्ञातव्य हो कि संघ प्रमुख भागवत देवघर के  एक कार्यक्रम में जाने के क्रम में कुछ देर के लिए पटना रुके थे .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *